ये हैं दुनिया की सबसे चमत्कारी गुफा, खुद बढ़ती जा रही हैं इसकी लंबाई

0
99

पूरी दुनिया में गुफाओं का इतिहास बहुत प्राचीन रहा है। यहां तक कि ऐसा भी कहा जाता है कि मानव का सबसे पहला घर गुफा ही हुआ करता था। पूरी दुनिया में इंसान गुफाओं से निकलकर ही फैले हैं। मध्य युग की बात करें तो यहां भी बड़े-बड़े राजाओं और सेनापतियों को एक जगह से दूसरी जगह जाने के लिए गुफा ही सबसे सुरक्षित लगता था। गुफा में बाहर से आक्रमण होने का खतरा सबसे कम रहता है और यह सेनाओं को भी बहुत अच्छे से सुरक्षित रखता था, इसलिए उस जमाने में गुफाओं का महत्व बहुत ज्यादा हुआ करता था।

दुनिया भर में कहने को तो बहुत सारी गुफाएं और सुरंगे हैं जिनमें से कईयों के बारे में तो इंसान को आज तक पता भी नहीं चल पाया है। लेकिन इनमें से एक ऐसी भी गुफा है जिसकी लंबाई प्रतिवर्ष बढ़ती जा रही है और इसे दुनिया की सबसे लंबी गुफा का खिताब भी मिल चुका है। यह गुफा अमेरिका में स्थित है और इसका नाम है केंटकी मैमथ केव। खबरों की माने तो आज तक किसी भी इंसान ने इस गुफा के अंतिम छोर को नहीं ढूंढा है और ऐसा कहा जाता है कि इसका अंतिम छोर लगातार बढ़ रहा है। इसी कारण से इस गुफा को दुनिया का सबसे लंबा गुफा कहा जाता है।

यूनेस्को के वर्ल्ड हेरिटेज साइट की सूची में शामिल इस गुफा को फ्लिंट रिज केव सिस्टम भी कहा जाता है। यह नॉर्थ अमेरिका के ब्रोंजेवाइल शहर के कैंटकी नेशनल पार्क में स्थित है और इसे देखने के लिए हर साल लाखों की तादाद में पर्यटक आते हैं। हैरानी की बात यह है की इस पार्क को 1941 में अमेरिका का नेशनल पार्क घोषित किया गया था मगर इस गुफा के बारे में उन्हें साल 1969 में पता चला। इसे दुनिया का सबसे लंबा गुफा इसलिए कहा जाता है क्योंकि इसकी लंबाई लगभग 420 मील यानी 680 किलोमीटर तक की बताई जाती हैं। मेक्सिको में मौजूद दुनिया की दूसरी सबसे लंबी गुफा से इसकी लंबाई लगभग दोगुनी है।

वैज्ञानिकों के मुताबिक साल 1969 में जब इसे खोजा गया था तब इसकी लंबाई 105 किलोमीटर बताई जाती थी मगर समय के साथ-साथ इसकी लंबाई लगातार बढ़ती रही और आज 650 किलोमीटर से भी ज्यादा की हो चुकी है। ऐसा कहा जाता है कि यह गुफा हर साल 13 किलोमीटर और लंबी हो जाती हैं। खास बात यह है कि यह गुफा बिल्कुल सीधी नहीं है। इसमें अनेकों गलियारे बने हुए हैं जिनमें से कइयों का छोर अभी तक ढूंढा नहीं जा सका है।

वैज्ञानिकों ने इस गुफा की लंबाई बढ़ने का राज बताते हुए कहा कि यह गुफा लाइमस्टोन यानी चुने की बनी हुई है। बारिश के महीने में यह पानी जमीन के अंदर अपना रास्ता बना लेता है और इसी वजह से यह गुफा हर साल थोड़ा आगे बढ़ जाती है।