इन 5 क्रिकेटर्स की लाइफ में लेडी लक आने के बाद ऊचाई छूने लगा इनका क्रिकेट करियर

0
78

क्रिकेट खेलने वाले प्रत्येक क्रिकेटर का सपना होता है कि वह अन्तराष्ट्रीय स्तर पर अपने देश का प्रतिनिधित्व करे. क्रिकेट के खेल में प्रतिभा के साथ-साथ लक की अहम भूमिका होती हैं. कई मौकों पर खिलाड़ी कड़ी मेहनत और प्रतिभा के कारण भारत की टीम में जगह बना लेता हैं लेकिन ज्यादा समय तक टीम में अपनी जगह पक्की नहीं कर पाता हैं. आज इस लेख में भारत के 5 ऐसे खिलाड़ियों के बारे में जानेगे, जिनकी लाइफ में लेडी लक आने के बाद उनका क्रिकेट करियर चमक उठा. देखे कौन है ये 5 खिलाड़ी:-

मनीष पांडे

 


टीम इंडिया के मिडल आर्डर बल्लेबाज मनीष पांडे ने वर्ष 2015 में अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था. जिसके बाद से वह लगातार टीम से अंदर-बाहर रहे हैं लेकिन जब भी पांडे को प्लेइंग इलेवन में खेलने का मौका मिला है तब-तब उनहोंने मौके को अच्छे से भुनाया हैं.

दाएं हाथ के बल्लेबाज पांडे ने 2 दिसम्बर 2019 को अपनी लॉन्ग टाइम गर्लफ्रेंड आश्रिता शेट्टी से की, जिसके बाद से पांडे के क्रिकेट करियर में लेडी लक का प्रभाव देखने को मिला और उनका करियर धीरे-धीरे उचाई चुने लगा हैं. अन्तराष्ट्रीय टी20 में पांडे ने हाल में लगातार 7 बार नॉटआउट रहने का कारनामा भी किया है, इसके आलावा वनडे में भी वह अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं.

क्रुणाल पांड्या

 


हार्दिक पांड्या के भाई क्रुणाल पांड्या लम्बे समय में घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए अच्छा करते आये हैं, जिसके बाद उन्हें टीम इंडिया के लिए खेलने का मौका मिला क्रुणाल ने 2017 में मुंबई को तीसरा आईपीएल खिताब जीतवाने के बाद 27 दिसम्बर 2017 को अपनी गर्लफ्रेंड पंखुड़ी शर्मा से शादी की थी.

शादी के बाद उन्हें अगले ही वर्ष 2018 में भारत के लिए डेब्यू का मौका मिला और अब वह हार्दिक पांड्या से अलग अपनी खुद को पहचान बना चुके हैं. क्रुणाल वर्तमान में भारत के टी-ट्वेंटी स्पेशलिस्ट ऑलराउंडर माने जाते हैं. पांड्या ने अब तक भारत के लिए खेले 19 मैचों में 130.52 स्ट्राइक रेट से बनाने के साथ-साथ 15 विकेट भी लिए हैं.

रोहित शर्मा

 

टीम इंडिया के उपकप्तान रोहित शर्मा के जीवन में लेडी लक का महत्व सबसे ज्यादा हैं. वर्ष 2007 में भारत के लिए डेब्यू करने वाले रोहित शर्मा करीब आधे दशक तक अपनी टीम में जगह पक्की नहीं कर पाए थे. जिसके बाद वर्ष 2013 में उन्हें एमएस धोनी ने बतौर ओपनर टीम में मौका दिया, जिसके बाद से वह आज वनडे क्रिकेट के सबसे सफल सलामी बल्लेबाजों में से एक हैं.

रोहित ने 2015 में रितिका सजदेह से शादी की थी जिसके बाद दिसम्बर 2018 में उनके घर से नन्नी परी समायरा में जन्म लिया. रोहित ने शादी के बाद से 4 आईपीएल खिताब जीते है जबकि बेटी के जन्म के अगले ही वर्ष भी रोहित ने एक आईपीएल खिताब जीता था, इसके आलावा भारत के लिए बतौर ओपनर उन्होंने जैसा प्रदर्शन किया है वो किसी से छुपा नहीं रहा हैं.

मयंक अग्रवाल

 

कर्नाटक के होनहार बल्लेबाज मयंक अग्रवाल वर्तमान में बतौर ओपनर भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में धूम मचा रहे हैं. अग्रवाल एक ऐसे बल्लेबाज रहे हैं, जो लगातार घरेलू क्रिकेट में प्रदर्शन कर रहे थे लेकिन उन्हें भारत के लिए खेलने का मौका नहीं मिला रहा था.

मयंक ने 4 जून 2018 को अपनी गर्लफ्रेंड आशिता शूद से शादी की थी, जिसके उन्हें दिसम्बर 2018 में भारत के लिए डेब्यू का मौका मिला. तब से वह भारत के लिए सिर्फ 14 टेस्ट मैचों में 1052 रन बना चुके हैं, इस दौरान उन्होंने 3 शतक और 4 अर्द्धशतक भी लगायें हैं.

संजू सैमसन

 

केरला के होनहार विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन को आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के बाद वर्ष 2015 में भारत के लिए डेब्यू का मौका मिला लेकिन एक ही मैच के बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया, इसके बाद उन्होंने आईपीएल सहित घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा प्रदर्शन किया लेकिन टीम में वह जगह नहीं बना पाए.

सैमसन ने 23 दिसम्बर 2018 को अपनी गर्लफ्रेंड चारुलता से शादी की, जिसके बाद उनके क्रिकेट करियर में एक बड़ा बदलाव आया और उन्हें करीब 5 वर्ष बाद भारत के लिए दोबारा खेलने का मौका मिला, उनका प्रदर्शन इस बार भी अच्छा नहीं रहा लेकिन उम्मीद ये है कि आने वाले समय में वह अच्छा प्रदर्शन करके टीम में अपनी जगह पक्की कर लेंगे.