home page

ये 4 खिलाड़ी बने हुए हैं टीम इंडिया पर बोझ.. जल्द टी20I क्रिकेट से ले लेना चाहिए संन्यास

 | 
ashwin kartik

आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2022 के सेमी फाइनल में टीम इंडिया की शर्मनाक हार के बाद टीम में बड़े बदलाव होना तय हैं. इस हार के बाद एक तरफ कई क्रिकेट एक्सपर्ट्स सीनियर खिलाड़ियों की अप्रोच पर सवाल उठा रहे है जबकि खराब टीम सिलेक्शन भी हार का बड़ा कारण रहा हैं. इन सब के बीच आज इस लेख में हम 4 ऐसे खिलाड़ियों के बारे में जानेगे, जिन्हें जल्द ही टी20 फॉर्मेट से संन्यास ले लेना चाहिए.

1) रविचंद्रन अश्विन

ashwin

रविचंद्रन अश्विन वर्तमान में देश के सबसे सीनियर स्पिनर हैं ऐसे में उन्हें टी20 वर्ल्ड के लिए चुना गया और युजवेंद्र चहल जैसे मैच विनर खिलाड़ी को प्लेइंग इलेवन से बाहर करके उन्हें सभी मैचों में उन्हें खिलाया भी गया लेकिन उनका प्रदर्शन बेहद ही निराशाजनक रहा हैं. अश्विन ने टूर्नामेंट के दौरान खेले 6 मैचों में सिर्फ 6 विकेट लिये. इस दौरान उनका इकॉनोमी दर भी 8+ रहा. ऐसे में अब ये माना जा रहा हैं कि वह सिमित ओवर क्रिकेट से संन्यास का ऐलान करके सिर्फ टेस्ट पर ध्यान केन्द्रित कर सकते हैं.

2) मोहम्मद शमी

shami

जसप्रीत बुमराह के चोटिल होकर वर्ल्ड कप से बाहर होने के बाद मोहम्मद शमी ने टी20 फॉर्मेट में वापसी की थी हालंकि शायद ऐसा नहीं होना चाहिए था. दरअसल टीम इंडिया को शमी की जगह किसी युवा गेंदबाज को मौका देना चाहिए था. शमी सिमित ओवर क्रिकेट में बेहद कम एक्टिव दिखाई देते हैं ऐसे में वर्ल्ड कप जैसे टूर्नामेंट में उन्हें चुना गया काफी हैरानी वाला फैसला था. इस गेंदबाज ने 6 मैचों में सिर्फ 4 ही विकेट लिए. वर्ल्ड कप जैसे टूर्नामेंट में उन्होंने जिस तरह का प्रदर्शन किया हैं, उसे देखकर यही कहा जा सकता हैं कि उन्हें बिना किसी देरी के संन्यास ले लेना चाहिए.

3) दिनेश कार्तिक

kartik

37 साल के विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक से टीम मैनेजमेंट को काफी उम्मीदें थी लेकिन इस सीनियर खिलाड़ी ने इस बार वही किया जो वह सालों से करते आ रहे हैं. दरअसल उनका कंसिस्टेंट प्रदर्शन का न करना टीम इंडिया पर भारी पड़ा. इस खिलाड़ी को टूर्नामेंट में 4 मैच खेलने को मिले, जिस दौरान उनके बल्ले से सिर्फ 18 रन ही निकले. वर्ल्ड कप में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद इसकी संभावना बेहद कम हैं कि उन्हें दोबारा टी20I में मौका मिलेगा. ऐसे में उन्हें खुद को संन्यास के लेना चाहिए.

4) भुवनेश्वर कुमार

bhuvi

टीम इंडिया के अनुभवी गेदबाज भुवनेश्वर कुमार का प्रदर्शन भी टी20 वर्ल्ड कप में बेहद निराशाजनक रहा हैं. जिसके बाद ये कहा जा रहा हैं कि वह जल्द ही सन्यास का ऐलान कर सकते हैं. दरअसल वर्ल्ड कप के दौरान उन्हें ज्यादातर पॉवरप्ले में गेंदबाजी मिली. इस दौरान वह टीम को शुरूआती सफलता दिलाने में हमेशा नाकाम रहे हैं.

बुमराह के वापसी करने के बाद भुवनेश्वर कुमार का खेलना मुश्किल हो जायेगा. ऐसे में उन्हें खुद ही इस फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान कर देना चाहिए.