home page

राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद पहली बार आया उनके वकील का ब्यान….  

मुंबई पुलिस ने सोमवार देर रात बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति बिजनेसमैन राज कुंद्रा को कथित तौर पर अश्लील फ़िल्में बनाने और उन्हें मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से प्रकाशित करने के आरोप में गिरफ्तार किया. राज को उसके साथी रयान थारप के साथ 23 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है, जिसे
 | 
राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद पहली बार आया उनके वकील का ब्यान….  

मुंबई पुलिस ने सोमवार देर रात बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति बिजनेसमैन राज कुंद्रा को कथित तौर पर अश्लील फ़िल्में बनाने और उन्हें मोबाइल एप्लिकेशन के माध्यम से प्रकाशित करने के आरोप में गिरफ्तार किया. राज को उसके साथी रयान थारप के साथ 23 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है, जिसे भी इसी मामले में गिरफ्तार किया गया था.
राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद पहली बार आया उनके वकील का ब्यान….  
मंगलवार को कुंद्रा के वकील ने अदालत में दलील दी कि कंटेंट को P0rn0graphy के रूप में वर्गीकृत करना गलत है. उन्होंने अश्लील कंटेंट के संबंध में अन्य धाराओं के साथ इलेक्ट्रॉनिक रूप में अश्लील सामग्री भेजने पर सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 67 ए के आवेदन पर भी आपत्ति जताई क्योंकि ये कानून ‘एक्चुअल इंटरकोर्से’ को अश्लील मानते हैं और बाकी सब कुछ अश्लील सामग्री के रूप में कहा जाता है.

राज की गिरफ्तारी के बारे में बात करते हुए वकील ने कहा कि गिरफ्तारी तभी होनी चाहिए जब इसके बिना जांच आगे नहीं बढ़ सकती और इस मामले में आरोपी को गिरफ्तारी के बाद जांच में शामिल किया गया था. वकील का कहना हैं कि कुंद्रा की गिरफ्तारी कानून के अनुसार नहीं की गई थी.

शिल्पा शेट्टी के खिलाफ नहीं मिला कोई सबूतराज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद पहली बार आया उनके वकील का ब्यान….  सोमवार देर रात राज कुंद्रा की गिरफ्तारी के बाद सबके मन में ये प्रश्न बार-बार आ रहा था कि राज के इस काले कारनामें में उनकी पत्नी शिल्पा शेट्टी की कोई भूमिका तो नहीं हैं? इन सभी प्रश्नों पर विराम लगाते हुए मुंबई पुलिस ने जवाब दिया है.

मुंबई पुलिस के जॉइंट कमिश्नर मिलिंद ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया उन्हें इस केस में एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी की कोई भूमिका नहीं दिखाई दी हैं. उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेस में बताया कि “हमें अभी तक शिल्पा शेट्टी की सक्रिय भूमिका का कोई प्रमाण नहीं मिला. लेकिन जांच अभी भी जारी है. इस मुद्दे से जुड़े पीड़ितों से हम अपील करते हैं कि आगे आएं और क्राइम ब्रांच मुंबई को संपर्क करें. हम उचित कार्रवाई करेंगे.”